दोहा डायमंड लीग : 400 मीटर हर्डल रेस में सातवें स्थान पर रहे भारतीय एथलीट एमपी जबीर

इस दोहा मीट के उद्घाटन समारोह में 25 वर्षीय एमपी जबीर भारत की ओर से चुनौती पेश करने वाले एकमात्र एथलीट थे। टोक्यो 2020 के ब्रान्ज मेडल विजेता एलिसन डॉस सैंटोस ने इस इवेंट में गोल्ड मेडल जीता।

लेखक रौशन कुमार
फोटो क्रेडिट Getty Images

कतर में चल रहे दोहा डायमंड लीग 2022 में शुक्रवार को भारतीय एथलीट एमपी जबीर मेंस 400 मीटर हर्डल रेस में सातवें स्थान पर रहे।

टोक्यो ओलंपिक जैवलिन चैंपियन नीरज चोपड़ा ने इस टूर्नामेंट से अपना नाम वापस ले लिया था, जिसके बाद एमपी जबीर दोहा मीट में चुनौती पेश करने वाले एकमात्र भारतीय एथलीट थे।

कई नामचिन एथलीटों के बीच दो बार के एशियन चैंपियनशिप के पदक विजेता ने 50.42 सेकंड में रेस को पूरा किया और आठ एथलीटों में सातवें स्थान पर रहे। कतर वर्ल्ड चैंपियनशिप में ब्रान्ज मेडल जीतने वाले अब्दर्रहमान सांबा ने अपनी रेस को शुरू ही नहीं किया।

टोक्यो 2020 के ब्रान्ज मेडल विजेता ब्राजील के एलिसन डॉस सैंटोस ने इस इवेंट में 47.24 सेकंड का समय लेते हुए गोल्ड मेडल अपने नाम किया। वह 400 मीटर मेंस इवेंट में शीर्ष पर रहे। टोक्यो सिल्वर मेडल विजेता यूएस के बेंजामिन राय (47.49) ने सिल्वर मेडल जीता, जबकि आयरलैंड के थॉमस बार (49.67) ने ब्रान्ज मेडल अपने नाम किया।

एमपी जाबिर ने साल 2019 कॉन्टिनेंटल चैंपियनशिप में 49.13 सेकंड का समय लिया था, जो उनका व्यक्तिगत सर्वश्रेष्ठ है। इसी साल अप्रैल में भारत में आयोजित फेडरेशन कप में उन्होंने 400 मीटर हर्डल रेस पूरा करने के लिए 50.35 सेकंड का समय लिया था, जो साल 2022 सीजन में उनका सर्वश्रेष्ठ समय है।

एमपी जबीर को एशियन गेम्स, कॉमनवेल्थ गेम्स और विश्व एथलेटिक्स चैंपियनशिप 2022 के लिए क्वालीफाइंग चरण को अभी पूरा करना बाकी है, जो 50 सेकंड के नीचे हैं।

साल 2022 एथलेटिक्स सीजन की शुरुआत दोहा डायमंड लीग से हुई है, जिसमें दुनिया भर के कई शीर्ष एथलीटों ने भाग लिया, जिसमें आंद्रे डी ग्रास, मुताज़ बर्शिम, जियानमार्को ताम्बरी, नूह लाइल्स और गैब्रिएल थॉमस जैसे ओलंपिक पदक विजेता शामिल रहे।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स