कॉमनवेल्थ गेम्स क्रिकेट: बारबाडोस को एकतरफा मुकाबले में हराकर सेमीफाइनल में पहुंची भारतीय महिला टीम

भारत की ओर से जेमिमाह रोड्रिग्स ने सर्वाधिक नाबाद 56 रन की पारी खेली तो वहीं रेणुका सिंह ने सर्वाधिक चार विकेट झटके।

लेखक रौशन कुमार
फोटो क्रेडिट 2022 Getty Images

ब्रिटेन के बर्मिंघम में जारी राष्ट्रमंडल खेल 2022 में बुधवार को भारतीय महिला क्रिकेट टीम ने बारबाडोस को 100 रनों से हराकर टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में जगह बना ली। यह मुकाबला एजबेस्टन क्रिकेट ग्राउंड पर खेला गया।

बारबाडोस की कप्तान हेले मैथ्यूज ने टॉस जीत कर भारत को पहले बल्लेबाजी का न्योता दिया। पहले बल्लेबाजी करने आई भारतीय महिला क्रिकेट टीम की शुरुआत अच्छी नहीं रही। वूमेन इन ब्लू की उपकप्तान और सलामी बल्लेबाज स्मृति मंधाना महज पांच रन बनाकर आउट हो गईं। बता दें पिछले मुकाबले में मंधाना ने शानदार अर्धशतक लगाकर भारत की जीत में अहम भूमिका निभाई थी।

पहला विकेट जल्दी गिर जाने के बाद भारत को एक बड़ी साझेदारी की दरकार थी।

युवा बल्लेबाज शेफाली वर्मा और नंबर तीन पर बल्लेबाजी करने उतरी जेमिमाह रोड्रिग्स ने दूसरे विकेट के लिए 46 गेंदों में 71 रनों की साझेदारी निभाई। दोनों बल्लेबाज अच्छी लय में लग रही थी, शेफाली अपने अर्धशतक के काफी करीब पहुंच गई थी लेकिन दोनों बल्लेबाजों के बीच तालमेल की कमी के चलते दाएं हाथ की युवा खिलाड़ी शेफली को रन आउट होकर पवेलियन लौटना पड़ा।

आउट होने से पहले भारतीय सलामी बल्लेबाज ने 26 गेंदों में सात चौके और एक छक्के की मदद से 43 रन बनाए।

इसके बाद जेमिमाह के साथ पारी को आगे बढ़ाने की जिम्मेदारी भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर के कंधो पर थी। लेकिन बारबाडोस की गेंदबाज शकेरा सेल्मन ने हरमनप्रीत को बिना खाता खोले पवेलियन का रास्ता दिखा दिया।

भारतीय कप्तान के आउट होने के बाद जेमिमाह का साथ देने आईं विकेटकीपर बल्लेबाज तानिया भाटिया (6) भी ज्यादा दर तक नहीं टिक सकी और वह भी आउट होकर डग आउट में वापस लौट गईं।

इस बीच जेमिमाह ने भारतीय पारी को आगे बढ़ाना जारी रखा। तानिया के आउट होने के बाद जेमिमाह ने स्पिन ऑलराउंडर दिप्ती शर्मा के साथ भारतीय पारी को आगे बढ़ाया और दोनों बल्लेबाजों ने पांचवें विकेट के लिए 43 गेंदों में नाबाद 70 रनों की शानदार साझेदारी निभाई।

इस शानदार साझेदारी की बदौलत टीम इंडिया ने निर्धारित 20 ओवर में चार विकेट पर 162 रनों का स्कोर खड़ा किया। भारत की तरफ से जेमिमाह रोड्रिग्स ने 46 गेंदों में छह चौके और एक छक्के की मदद से नाबाद 56 रनों की पारी खेली तो वहीं दिप्ती भी 28 गेंदों में दो चौके और एक छक्के की मदद से 34 रन बनाकर नाबाद लौटीं।

163 रनों के लक्ष्य का पीछा करने उतरी बारबाडोस की शुरुआत बेहद खराब रही। कैरेबियाई टीम ने महज 20 रनों के भीतर चार विकेट गवां दिए। भारतीय तेज गेंदबाज रेणुका सिंह ने विपक्षी टीम के चार विकेट लेकर उन्हें मैच में वापसी का कोई मौका नहीं दिया। किशोना नाइट्स ने 20 गेंदों में 16 रनों की पारी खेली।

भारतीय गेंदबाजों ने इस मैच में शानदार गेंदबाजी का मुजाहिरा किया। भारत की ओर से मिडियम पेसर रेणुका सिंह ने 4 ओवर में महज 10 रन खर्च कर 4 विकेट हासिल किए। इससे पहले ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ भी उन्होंने 4 विकेट झटके थे। मालूम हो कि रेणुका कॉमनवेल्थ गेम्स में फिलहाल सर्वाधिक विकेट लेने वाली गेंदबाज हैं।

इस जीत के साथ भारतीय महिला टीम ने सेमी-फाइनल का टिकट हासिल कर लिया। टीम इंडिया का अब सेमी-फाइनल मुकाबला ग्रुप ए में पहले स्थान पर रहने वाली टीम के साथ शनिवार, 6 अगस्त को होगा।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स