कॉमनवेल्थ गेम्स 2022: अमित पंघल और छह अन्य मुक्केबाजों ने बॉक्सिंग में पक्का किया पदक

भारतीय मुक्केबाज अमित पंघल, निकहत जरीन समेत सात मुक्केबाजों ने भारत के लिए पदक सुनिश्चित कर लिया है।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट Getty Images

भारतीय मुक्केबाज अमित पंघल ने गुरुवार को ब्रिटेन के बर्मिंघम में चल रहे राष्ट्रमंडल खेल 2022 में पुरुषों के फ्लाईवेट 51 किग्रा बॉक्सिंग सेमीफाइनल में जगह बना ली। इसी के साथ उन्होंने भारत के लिए पदक पक्का कर दिया।

गोल्ड कोस्ट 2018 में रजत पदक जीतने वाले पूर्व विश्व नंबर 1 अमित पंघल बर्मिंघम 2022 में अपने पदक को स्वर्ण में बदलने के लिए उत्सुक हैं। सोलिहुल में नेशनल एग्जिबीशन सेंटर (NEC) में अपने क्वार्टर-फाइनल मुकाबले में उन्होंने स्कॉटलैंड के युवा मुक्केबाज लेनन मुलिगन को 5-0 से हराकर अपने लक्ष्य की ओर एक और बड़ा कदम बढ़ा दिया।

पूर्व एशियाई खेलों के चैंपियन और विश्व चैंपियनशिप के रजत पदक विजेता अमित पंघल ने बाएं हाथ से कुछ तगड़े जैब्स लगाने के साथ मुकाबले की शुरुआत की, लेकिन स्कॉटलैंड के युवा मुक्केबाज ने भी कड़ी टक्कर दी और वह भी कुछ अच्छे मुक्के लगाने में सफल रहे।

हालांकि, राउंड ऑफ 16 में वानुआतु के नामरी बेरी को सर्वसम्मत निर्णय से हराने वाले भारतीय मुक्केबाज पंघल ने पहले राउंड के बीच में अपनी लय को बदलते हुए कुछ दमदार मुक्के लगाकर शानदार शुरुआत की।

मुलिगन दूसरे राउंड में थके हुए से नजर आए और भारतीय मुक्केबाज को रस्सियों पर धकेलते हुए उलझाए रखा। हालांकि, अनुभवी अमित पंघल बेहतरीन काउंटर करते हुए कुछ मुक्के लगाने में सफल रहे और दूसरे राउंड में भी स्कॉटलैंड के युवा मुक्केबाज पर जीत हासिल कर ली।

तीसरा राउंड एकतरफा रहा, जिसमें अमित पंघल पूरी तरह से मुलिगन पर हावी रहे और सर्वसम्मत निर्णय (5-0) से इस मुकाबले को जीत लिया।

सेमीफाइनल में, अमित पंघल का सामना जाम्बिया के पैट्रिक चिनीम्बा से होगा, जिन्होंने अपने अंतिम आठ के मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया के एलेक्स विनवुड को हराया था।

आपको बता दें, मुक्केबाजी में सेमीफाइनल में हारने वाले दोनों मुक्केबाज कांस्य पदक जीतते हैं और शीर्ष चार में पहुंचने वाले मुक्केबाज पदक पक्का कर लेते हैं।

महिलाओं के 60 किग्रा लाइटवेट वर्ग में, भारत की जैस्मीन लैंबोरिया ने न्यूजीलैंड की ट्रॉय गार्टन को 4:1 के स्प्लिट डिसीजन से हराकर सेमीफाइनल में जगह बना ली और इसी के साथ खुद के लिए मेडल पक्का कर लिया।

दिन के एक अन्य मेंस 92+ किग्रा सुपर हेवीवेट बॉक्सिंग के क्वार्टर-फाइनल मुकाबले में भारतीय मुक्केबाज सागर ने सर्वसम्मत निर्णय (5-0) से सेशेल्स के केडी इवांस एग्नेस पर जीत दर्ज करते हुए सेमीफाइनल में जगह बनाई।

भारतीय खिलाड़ी अपने शीर्ष चार मुकाबले में नाइजीरिया के इफेनी ओन्येकवेरे से भिड़ेगा।

दूसरी तरफ रोहित टोकस ने नीयू के जेवियर माताफा-इकिनोफो को 5-0 से हराकर पुरुषों के 67 किग्रा सेमीफाइनल में जगह बनाई। 

इसके साथ ही भारत अब कॉमनवेल्थ गेम्स में मुक्केबाजी में सात पदक सुनिश्चित कर चुका है।

वहीं, निकहत जरीन (महिला 50 किग्रा), नीतू घंघास (महिला 48 किग्रा), मोहम्मद हुसामुद्दीन (पुरुष 57 किग्रा) ने भी बुधवार को सेमीफाइनल में जगह बनाई थी।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स