बेंगलुरू एफसी ने माज़िया के खिलाफ जीत के साथ खत्म किया अपना एएफसी कप 2021 अभियान

विद्यासागर सिंह के दो गोल की बदौलत बेंगलुरु एफसी ने 6-2 से जीत दर्ज की। कप्तान सुनील छेत्री को इस मुकाबले में आराम दिया गया।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट Bengaluru FC

भारत के बेंगलुरू एफसी क्लब ने मालदीव के माजिया एस एंड आरसी को 6-2 से हराकर मंगलवार को मालदीव के माले में नेशनल स्टेडियम में अपने एएफसी कप 2021 अभियान को जीत के साथ समाप्त किया।

उदंता सिंह (6'), क्लेटन सिल्वा (19'), लियोन ऑगस्टीन (36'), शिवशक्ति नारायणन (70') और विद्यासागर सिंह (84', 90+3') के गोल की बदौलत बेंगलुरू एफसी इस प्रतियोगिता में अपनी पहली जीत दर्ज करने में कामयाब रहा।

बेंगलुरू एफसी इंडियन सुपर लीग क्लब एटीके मोहन बागान से अपना शुरुआती ग्रुप मैच 2-0 से हार गया था और फिर इससे पहले के ग्रुप मैच में बशुंधरा किंग्स के खिलाफ गोल रहित ड्रॉ खेला।

वहीं, हमजात मोहम्मद और अब्दुल्ला असदुल्ला ने मेज़बान माजिया के लिए 67वें और 82वें मिनट में दो गोल किए।

नॉक-आउट चरण में जगह ना बना पाने के बाद बेंगलुरू एफसी के मुख्य कोच मार्को पेज़ाईओली ने टीम की बेंच स्ट्रेंथ का टेस्ट करने के लिए अपने अंतिम एएफसी कप 2021 मुकाबले में बचे हुए खिलाड़ियों का उपयोग करने का विकल्प चुना।

उनके कप्तान सुनील छेत्री को आराम दिया गया, जबकि युवा लियोन ऑगस्टाइन और रोशन सिंह नोआरेम ने बड़ी भूमिका निभाई। पहली बार खेल रहे खिलाड़ियों ने बेंगलुरू एफसी के लिए शुरुआती गोल दागकर उसके जीत के सफर को आसान कर दिया।

सार्थक गोलुई के साथ अच्छी तरह तालमेल बनाते हुए लियोन ऑगस्टीन ने एक शानदार क्रॉस दिया, जिसका उदंत सिंह ने पूरा फायदा उठाते हुए पहला गोल दाग दिया।

इस गोल ने बेंगलुरू एफसी के आत्मविश्वास को काफी बढ़ा दिया। लियोन ऑगस्टाइन एक गोल करने में चूक गए, जबकि क्लेटन सिल्वा एकमात्र स्ट्राइकर के रूप में खेल रहीं थे। उन्होंने अपने शक्तिशाली शॉट्स के साथ प्रतिद्वंद्वी के गोलकीपर हुसैन शरीफ को टेस्ट किया।

मालदीव के गोलकीपर इस शॉट के लिए तैयार थे। लेकिन वह शुरुआती हाफ के बीच में ही फेल नज़र आए, क्योंकि ब्राजील के क्लेटन सिल्वा ने उन्हें चकमा देते हुए बेंगलुरू एफसी की बढ़त को दोगुना कर दिया।

इसके बाद चोट के कारण हुसैन शरीफ को जल्द ही बदल दिया गया और उसके कुछ ही देर बाद ऑगस्टीन ने पेनल्टी क्षेत्र के अंदर से एक शानदार स्ट्रोक लेते हुए स्कोर 3-0 कर दिया।

क्लेटन सिल्वा के पास को लियोन ऑगस्टाइन ने गोलकीपर ममतखोनोव मिरज़ोखिद के पैर के बीच से निकालते हुए बेंगलुरु एफसी के लिए अपना दूसरा सीनियर टीम गोल दागा।

दूसरे हाफ में शिवशक्ति नारायणन और विद्यासागर सिंह ने स्कोर शीट पर अपना नाम दर्ज किया, जबकि माज़िया ने भी दो गोल करते हुए वापसी करने की कोशिश की।

बेंगलुरू एफसी के लिए अपनी पहली सीनियर टीम प्रतियोगिता खेल रहे 20 वर्षीय शिवशक्ति नारायणन ने एक शानदार स्ट्राइक के साथ सभी का दिल जीत लिया। जबकि पिछले सीज़न के आई-लीग के शीर्ष गोल स्कोरर विद्यासागर सिंह ने अपना खाता खोला। उन्होंने अपने नए क्लब के इस मुकाबले में अंतिम पलों में दो गोल किए।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स