बीजिंग 2022 शीतकालीन ओलंपिक: आइस हॉकी के प्रमुख हरजिंदर सिंह को नियुक्त किया गया भारत का शेफ डी मिशन

अल्पाइन स्कीयर मोहम्मद आरिफ खान 2022 शीतकालीन ओलंपिक के लिए क्वालीफाई करने वाले एकमात्र भारतीय खिलाड़ी हैं।

लेखक रौशन कुमार
फोटो क्रेडिट Getty Images

भारतीय ओलंपिक संघ (IOA) ने फरवरी में आयोजित होने वाले बीजिंग 2022 शीतकालीन ओलंपिक के लिए हरजिंदर सिंह को शेफ डी मिशन नियुक्त किया है।

आइस हॉकी के प्रमुख हरजिंदर सिंह ने 2018 में कोरिया के प्योंगचांग में आयोजित हुए शीतकालीन खेल में भी भारत की कमान संभाली थी। यहां भारत की ओर से क्रॉस कंट्री स्कीयर जगदीश सिंह और छह बार के ओलंपियन लुगर शिवा केशवन ने भी भारत का प्रतिनिधित्व किया था।

शेफ डी मिशन की जिम्मेदारी होती है कि वह एथलीटों के दल और कोच के लिए सही वातावरण सुनिश्चित करे, ताकि वह अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दे सकें। वह आमतौर पर टीम की योजना, उनकी जरुरतों का ख्याल और उनके यात्रा करने के शेड्यूल का ध्यान रखते हैं।

चार फरवरी से 20 फरवरी तक आयोजित होने वाले बीजिंग 2022 शीतकालीन ओलंपिक में भारत की ओर से अभी तक अल्पाइन स्कीयर मोहम्मद आरिफ खान ही कोटा हासिल करने में कामयाब हो पाए हैं। वह मेंस स्लैलम इवेंट में अपनी दावेदारी पेश करेंगे।

शीतकालीन खेलों का पहला संस्करण 1924 में फ्रांस के शैमॉनिक्स में आयोजित किया गया था। भारत ने 1964 में पहली बार हिस्सा लिया था और अभी तक 10 संस्करणों में भाग ले चुका है।

चार बार के एशियान चैंपियन शिवा केशवन ने 1998 से लगातार छह बार शीतकालीन ओलंपिक में भारत का प्रतिनिधित्व किया है।

हालांकि, शीतकालीन ओलंपिक में भारत को अभी भी पदक का इंतजार है।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स