भारत के मोहम्मद आरिफ खान का बीजिंग 2022 विंटर ओलंपिक का सफर हुआ समाप्त, उनके परिणाम पर डालें एक नज़र

एक अच्छी शुरुआत के बाद, भारतीय अल्पाइन स्कीयर अंतिम स्टेज में अपना रास्ता भटक गए और इस तरह वह पहला रन पूरा करने में असफल रहे।

लेखक सतीश त्रिपाठी
फोटो क्रेडिट Getty Images

भारतीय अल्पाइन स्कीयर मोहम्मद आरिफ खान का बुधवार को बीजिंग 2022 शीतकालीन ओलंपिक में सफर समाप्त हो गया। वह अपने दूसरे मेंस स्लैलम इवेंट में आगे बढ़ने में असफल रहे।

मोहम्मद आरिफ खान रविवार को जायंट स्लैलम इवेंट में 45वें स्थान पर थे। हालांकि यानकिंग नेशनल अल्पाइन स्कीइंग सेंटर में स्लैलम इवेंट का अपना पहला रन पूरा करने में विफल रहे।

स्लैलम अल्पाइन स्कीइंग इवेंट में जायंट स्लैलम की तरह, एथलीट स्लोप पर गेट या डंडे के सेट के बीच से सबसे जल्दी निकलने के लिए स्की करते हैं। इस दौरान प्रतियोगियों को दो रन मिलते हैं और दोनों प्रयासों में उनके कुल समय के अनुसार रैंक किया जाता है।

रन 1 में किसी भी गेट के बीच से न गुजर पाने में इसे DNF (डिड नॉट फिनिश) माना जाता है। रन 1 में DNF का मतलब है कि एथलीट दूसरे रन में हिस्सा नहीं ले सकता। वहीं, रन 2 में भी किसी एक गेट से चूकने पर स्कीयर को DNF भी मिलता है, जो उन्हें अंतिम स्टैंडिंग में रैंकिंग के लिए अयोग्य बनाता है।

स्लैलम कोर्स में और दो क्रमिक गेटों के बीच की दूरी जायंट स्लैलम की तुलना में बहुत कम होती है, जिससे यह बहुत तेज और अधिक सटीक खेल बन जाता है।

बीजिंग 2022 में, स्लैलम इवेंट 'आइस रिवर' कोर्स 211 मीटर लंबा कोर्स था, जो 1712 मीटर से शुरू हुआ और 1501 मीटर की ऊंचाई पर फिनिश किया।

स्लैलम में 61 देशों के 88 एथलीट प्रतिस्पर्धा में शामिल हुए थे, जहां आरिफ खान रन 1 के लिए शुरुआती सूची में 79वें खिलाड़ी थे।

आरिफ खान ने अच्छी शुरुआत की, पहला इंटरमीडिएट 14.40 सेकेंड में और दूसरा 34.41 सेकेंड में पूरा किया। हालांकि, जम्मू-कश्मीर के 31 वर्षीय खिलाड़ी आखिरी स्टेज में रास्ता भटक गए और अपन पहला रन पूरा करने में असफल रहे।  

इस रन के बाद भारतीय एथलीट अब दिन के दूसरे रन में हिस्सा नहीं ले सकेगा। जहां 88 में से केवल 52 स्केटर ही रन 1 को पूरा करने में सफल रहे और वो सभी रन 2 में फिर से प्रतिस्पर्धा करेंगे। ऑस्ट्रिया के जोहान्स स्ट्रोल्ज़ ने 53.92 सेकेंड के समय के साथ रन 1 के बाद रेस का नेतृत्व किया। 

बीजिंग 2022 में अपने निराशाजनक अंत के बावजूद, आरिफ खान ने अपने पहले विंटर गेम्स में पहले ही एक छाप छोड़ी है। उन्होंने ओलंपिक में जायंट स्लैलम में किसी भारतीय द्वारा अब तक का सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन अपने नाम दर्ज किया है।

बीजिंग 2022 में आरिफ खान भारत के एकमात्र एथलीट थे और उन्होंने स्लैलम और जायंट स्लैलम इवेंट में हिस्सा लिया।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स