BWF वर्ल्ड चैंपियनशिप 2022: लक्ष्य सेन को हराकर क्वार्टर फाइनल में पहुंचे एचएस प्रणॉय, एमआर अर्जुन-ध्रुव कपिला ने रचा इतिहास

एमआर अर्जुन और ध्रुव कपिला की जोड़ी वर्ल्ड बैडमिंटन चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले पहले पुरुष युगल बन गए हैं। वहीं, लक्ष्य सेन को हराकर एचएस प्रणॉय ने क्वार्टर फाइनल में प्रवेश कर लिया।

लेखक रौशन प्रकाश वर्मा
फोटो क्रेडिट Badmintonphoto | Courtesy of BWF

जापान के टोक्यो मेट्रोपॉलिटन जिमनैजियम में जारी BWF वर्ल्ड चैंपियनशिप 2022 की पुरुष एकल स्पर्धा में भारत के सर्वोच्च रैंकिंग वाले बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन हमवतन एचएस प्रणॉय से हारकर प्रतियोगिता से बाहर हो गए।

लक्ष्य सेन को हराकर क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाले थॉमस कप जीत के हीरो रहे एचएस प्रणॉय का मुकाबला शुक्रवार को चीनी शटलर जुन पेंग हाओ के खिलाफ होगा। अगर वह क्वार्टर फाइनल में जीतते हैं तो ये वर्ल्ड चैंपियनशिप में उनका पहला पदक होगा।

गुरुवार को दोनों भारतीय दिग्गज शटलर के बीच रोमांचक मुकाबला देखने को मिला, जहां लक्ष्य सेन ने एचएस प्रणॉय को कड़ी टक्कर दी लेकिन वह जीत दर्ज करने में असफल रहे। प्रणॉय ने 1 घंटे 15 मिनट तक चले रोमांचक मुकाबले में सेन को 17-21, 21-16, 21-17 से हरा दिया।

भारत के शीर्ष एकल पुरुष बैडमिंटन खिलाड़ी लक्ष्य सेन ने शानदार खेल दिखाते हुए पहले गेम को 21-17 से अपने नाम किया। हालांकि, दूसरे गेम में एचएस प्रणॉय ने वापसी करते हुए शुरुआती बढ़त हासिल की। इसके बाद दोनों ही खिलाड़ियों के बीच कड़ा मुकाबला देखने को मिला। लेकिन प्रणॉय ने बाद में गेम पर नियंत्रण हासिल करते हुए 21-16 से जीत दर्ज की।

तीसरे और निर्णायक मुकाबले में भी प्रणॉय ने अपनी लय बरकरार रखते हुए सेन को 21-17 से शिकस्त दी और मैच को 2-1 से अपने नाम किया।

वहीं, पुरुष युगल स्पर्धा में एमआर अर्जुन और ध्रुव कपिला की भारतीय जोड़ी ने 2-1 से जीत दर्ज करते हुए इतिहास रच दिया। ये पुरुष जोड़ी बैडमिंटन के वर्ल्ड चैंपियनशिप के क्वार्टर फाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय जोड़ी बन गई है।

इस भारतीय जोड़ी ने सिंगापुर की जोड़ी ही योंग काई टेरी और लोह कीन हीन को 58 मिनट तक चले मैच में 18-21, 21-15, 21-16 से मात दी। पहले गेम के बाद मुकाबले में 1-0 से पिछड़ने के बाद भारतीय खिलाड़ियों ने वापसी की और लगातार दोनों गेम जीत लिया।

इसके ठीक बाद, सातवीं वरीयता प्राप्त चिराग शेट्टी और सात्विकसाईराज रंकीरेड्डी की जोड़ी ने भी डेनमार्क के जेप्पे बे और लासे मोल्हेडे को 21-12, 21-10 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई।

चिराग-सात्विक का अगला मुकाबला मौजूदा विश्व चैंपियन ताकुरो होकी और यूगो कोबायाशी से होगा जबकि, अर्जुन-कपिला का सामना इंडोनेशिया के मोहम्मद अहसान और हेंड्रा सेतियावान से होगा।

वहीं, महिला एकल  स्पर्धा में भारत को निराशा हाथ लगी। कॉमनवेल्थ गेम्स 2022 की स्वर्ण पदक विजेता पीवी सिंधु की गैर-मौजूदगी में भारत की एकमात्र उम्मीद साइना नेहवाल राउंड ऑफ 16 में हारकर प्रतियोगिता से बाहर हो गईं। पूर्व विश्व चैंपियन साइना नेहवाल को बुसानन ओंगबामरूंगफन के खिलाफ एक घंटे चार मिनट तक मुकाबले में 21-17, 16-21, 21-13 से शिकस्त झेलनी पड़ी। 

पहले गेम को 21-17 से हारने के बाद नेहवाल ने दूसरे गेम में अच्छी वापसी की। उन्होंने दूसरे गेम में थाईलैंड की शटलर को बढ़त बनाने का कोई मौका नहीं दिया और 21-16 से गेम अपने नाम किया। हालांकि, तीसरे और निर्णायक गेम में वह अपनी लय को बरकरार नहीं रख सकीं और 21-13 से हारकर मैच गंवा दिया। इसके साथ ही प्रतियोगिता में उनका अभियान खत्म हो गया।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स