विंटर ओलंपिक में अल्पाइन: बीजिंग 2022 से पहले 2020-21 वर्ल्ड कप सीज़न का सार जानें 

2020-21 एफआईएस अल्पाइन स्की वर्ल्ड कप के समापन के साथ, हम बीजिंग 2022 पर नज़र रखते हुए इस बीते हुए सीज़न से मेंस और वूमेंस एथलीटों में शीर्ष स्कीयर्स के प्रदर्शन पर नज़र डालेंगे।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images

पुरुष:

एलेक्सिस पिंटुरॉल्ट की जीत

1996-97 सीज़न में ल्यूक अल्फंड (Luc Alphand) के बाद एलेक्सिस पिंटुरॉल्ट (Alexis Pinturault) समग्र रूप से विश्व कप खिताब जीतने वाले पहले फ्रांसीसी खिलाड़ी बने, इस दौरान उन्होंने सफलतापूर्वक स्विस मार्को ओडरमैट (Marco Odermatt) की चुनौती का सामना किया, जो प्रतियोगिता में दूसरे स्थान पर रहे। 30 वर्षीय पिंटुरॉल्ट ने जायंट स्लैलम और पैरलल वर्ल्ड कप में भी क्रिस्टल ग्लोब हासिल किया, इसके साथ ही तीन बार के ओलंपिक पदक विजेता एलेक्सिस पिंटुरॉल्ट ने कॉर्टिना में 2021 वर्ल्ड चैंपियनशिप में रजत और कांस्य पदक (कम्बाइंड और सुपर-जी) के साथ इस साल के प्रदर्शन को खत्म किया।

पिंटुरॉल्ट एक फ्रांसीसी टीम का हिस्सा हैं, जो पूरे सीजन में टेक्निकल खेल अनुशासन में अच्छा प्रदर्शन करते है: क्लेमेंट नोएल (Clement Noel) (कुल नौ कप जीते, 2020-21 सीज़न में दो जीते) स्लैलम में एक उभरता हुआ सितारा हैं, जबकि दो बार के ओलंपियन खिलाड़ी माथियू फेवरे (Mathieu Faivre) ने स्वर्ण पदक जीता, कॉर्टिना में जायंट और पैरलल स्लैलम में उन्होंने तीन विश्व चैंपियनशिप खिताब (2017 में टीम इवेंट गोल्ड भी शामिल) जीते थे।

मार्को ओडरमैट और मार्को श्वार्ज का चमत्कारी वर्ष

ऐल्प्स में दूसरी तरफ मार्को ओडरमैट (स्विट्ज़रलैंड) (Marco Odermatt) तीन जीत और 2020-21 सीज़न में नौ बार पोडियम स्थान हासिल करने के साथ ही शीर्ष स्कीयर बन गए। छह बार के जूनियर विश्व चैंपियन पूरी प्रतियोगिता में दूसरे स्थान पर रहे, और बीजिंग में इनपर सभी की निगाहें रहेंगी। दरअसल, स्विस टीम शीतकालीन ओलंपिक में कई इवेंट्स में पदक की प्रबल दावेदार होगी, जिसमें प्योंगचांग के स्वर्ण पदक विजेता लोइक माइलार्ड और रैमन ज़ेनहॉसर्न  (Loic Meillard and Ramon

Zenhausern) शामिल हैं।

स्विट्ज़रलैंड को निश्चित तौर पर ऑस्ट्रिया के मार्को श्वार्ज़ (ऑस्ट्रिया) (MMarco Schwarz) जैसे एथलीटों से बड़ी चुनौती मिलेगी, जो स्लैलम कप में हावी रहे थे, और प्योंगचांग टीम के रजत पदक विजेता मैनुएल फेलर, (Manuel Feller) जिन्होंने 2020-21 सीज़न में दो स्लैलम जीत दर्ज की थी, ये स्क्वाड के दो चमकते हुए सितारे होंगे।

स्विट्जरलैंड के मार्को ओडरमटट में ऑडी FIS अल्पाइन स्की विश्व कप मेंस जाइंट स्लैलम का एक्शन देखिए।
फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images

2019-20 के सीज़न में स्लैलम और जायंट स्लैलम ग्लोब जीतने के बाद, एक रेस की जीत के साथ हेनरिक क्रिस्टोफ़र्सेन (Henrik Kristoffersen -NOR) के लिए यह सीज़न कुछ निराशाजनक रहा। लेकिन डबल ओलंपिक पदक विजेता ने 2021 विश्व चैंपियनशिप में स्लैलम में कांस्य पदक जीता था, इसलिए उम्मीद है कि वह बीजिंग में एक और पदक हासिल करने के लिए जोर लगाएंगे।

उन्हें सेबस्टियन फॉस-सोलेवाग (Sebastian Foss-Solevaag - NOR) से टीम इवेंट में कुछ मदद मिलनी चाहिए, जिन्होंने वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्लैलम और टीम इवेंट में डबल गोल्ड जीतने के अलावा इस सीज़न (स्लैलम) में एक जीत हासिल की, और फ़िलिप ज़ुबिक (Filip Zubcic - CRO) को भी हमें नहीं भूलना चाहिए, जिन्होंने इस सीजन में दो जीत के साथ पांच रेस में पोडियम स्थान हासिल किया। जब दिन उनका हो तो वह जायंट स्लैलम में किसी को भी शिकस्त दे सकते हैं।

फ्यूज़ ने लगातार चार पदक जीते

बीट फ्यूज़ (Beat Feuz (SUI) इस समय लगातार अपना चौथा डाउनहिल कप जीतने के बाद स्पीड रेस के किंग बन चुके हैं, यह एक ऐसी उपलब्धि है जिसने उन्हें अल्पाइन स्कीइंग में दिग्गज बना दिया है। इस स्विस दिग्गज ने प्योंगचांग 2018 में क्रमशः सुपर-जी और डाउनहिल में रजत और कांस्य पदक जीता था, और 2021 विश्व चैंपियनशिप में डाउनहिल में भी कांस्य पदक जीता था। इसलिए इस बात में कोई शक नहीं कि वह शीतकालीन खेलों में पसंदीदा एथलीटों में से एक होंगे।

बीट फ्यूज़ को दो ऑस्ट्रियाई चैंपियन, माथियस मेयर (Matthias Mayer) (सुपर-जी में सोची में और प्योंगचांग में डाउनहिल में स्वर्ण) और विन्सेंट क्रिच्मेयर (Vincent Kriechmayr) से चुनौती मिलेगी, जिन्होंने सुपर-जी कप और वर्ल्ड चैंपियनशिप में डाउनहिल और सुपर-जी में दो स्वर्ण पदक जीतकर एक शानदार सीजन का अंत किया था।

नार्वे के स्पीड स्केटर अलेक्जेंडर ए किल्डे (Aleksander A. Kilde) (2020 विश्व कप ओवरऑल विजेता), जो लिगामेंट की एक चोट से उबरने के बाद प्रतियोगिता में वापसी कर रहे हैं, और पांच बार के ओलंपिक पदक विजेता जेटिल जैन्सर्ड (Kjetil Jansrud) पर भी सभी की नज़रे टिकी होंगी।

चौथी बार 'डोम' के लिए आकर्षण?

डोमिनिक 'डोम' पेरिस, (Dominik 'Domme' Paris) 19 कप जीतकर एक शानदार करियर होने के बावजूद (फरवरी 2021 में गार्मिस्क-पार्टेनकिर्चेन में डाउनहिल में एक लिगामेंट की चोट से उबरकर वापसी करेंगे) डोमिनिक ‘डोम’ वैंकूवर 2010, सोची 2014 और प्योंगचांग 2018 में प्रतिस्पर्धा के बाद इन तीनों प्रयासों में पोडियम पर पहुंचने में कामयाब नहीं हुए। अब देखना यह होगा कि क्या उनकी किस्मत बीजिंग 2022 में बदल पाएगी?

महिला:

स्लोवाकिया स्टार

स्लोवाक पेट्रा वल्होवा (Slovak Petra Vlhová) ने वर्ष 2020 (स्लैलम और पैरलल स्लैलम) में दो विशेष ग्लोब जीतने के बाद, आखिरकार 2021 में (अपने देश के लिए पहला) विश्व कप जीता। इस दौरान उन्होंने एक शानदार एथलीट लारा गुट बेहरामी (Lara Gut Behrami - SUI) को हराया, जो खुद भी सुपर-जी वर्ल्ड कप जीत चुकी हैं, और साथ ही जायंट स्लैलम और सुपर-जी में 2021 विश्व चैंपियनशिप भी जीता था।

स्लोवाकिया के पेट्रा वल्होवा ने ऑडी FIS अल्पाइन स्की विश्व कप में स्टैंडिंग में पहला स्थान प्राप्त किया।
फोटो क्रेडिट 2021 Getty Images

क्वीन की वापसी

मिकाएला शिफ्रिन (Mikaela Shiffrin - (USA) निस्संदेह ही दो कांस्य पदक (स्लैलम और सुपर-जी), एक रजत (जायंट स्लैलम) और विश्व चैंपियनशिप में एक स्वर्ण पदक (कम्बाइंड) जीतने के बाद बीजिंग में फिर से कड़ी टक्कर देने वाली महिला होंगी।

शिफ्रिन तीन बार की ओवरऑल विश्व कप चैंपियन, स्लैलम में चार बार की विश्व चैंपियन, और तीन बार की ओलंपिक पदक विजेता हैं, और 2022 के शीतकालीन खेलों में हिस्सा लेने वाली शिफ्रिन प्रत्येक इवेंट में प्रबल दावेदार होंगी।

हालांकि, यदि वह पोडियम स्थान पर लौटना चाहती हैं, तो उन्हें ओलंपिक रजत पदक विजेता कैथरीना लीन्सबर्ग (Katharina Liensberger - (AUT) को हराना होगा, जिन्होंने 2021 में स्लैलम विश्व कप जीता और 2021 वर्ल्ड चैंपियनशिप में स्लैलम और पैरलल स्लैलम में स्वर्ण पदक जीता।

इटली की दो दिग्गज

मार्टा बैसिनो और सोफिया गोगिया (Marta Bassino and Sofia Goggia) की इतालवी जोड़ी ने इस सीजन में विशाल स्लैलम और डाउनहिल कप में शो जीता, दोनों ने चार दौड़ जीतीं और उन्होंने क्रमशः दोनों ही खेल अनुशासन में क्रिस्टल ग्लोब पर कब्ज़ा जमाया।

गोगिया डाउनहिल में एक बार फिर से ओलंपिक चैंपियन है, और अगर वह अपनी हाल की चोट से उबरने में सफल रहती हैं, तो बीजिंग में पोडियम के लिए एक बार फिर से चुनौती देंगी। बैसिनो ने प्योंगचांग में अपने ओलंपिक डेब्यू में जायंट स्लैलम में पांचवां स्थान हासिल किया, लेकिन इस सत्र में अल्पाइन सर्किट पर अपने प्रदर्शन के आधार पर वह बीजिंग में पदक की प्रबल दावेदार हैं।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स
यहां साइन अप करें यहां साइन अप करें