गोकुलम केरल ने जीत के साथ खत्म किया एएफसी वूमेंस क्लब चैंपियनशिप अभियान

भारत की गोकुलम केरल एफसी ने उज्बेकिस्तान की एफसी बन्योदकोर को 3-1 से हराया, जिसमें एल्शादाई अचेमपोंग, मनीषा और करेन स्टेफनी ने गोल किए।

लेखक रितेश जायसवाल
फोटो क्रेडिट Gokulam Kerala FC

भारत के गोकुलम केरल एफसी ने शनिवार को जॉर्डन के अकाबा डेवलपमेंट कॉरपोरेट स्टेडियम में एएफसी वूमेंस क्लब चैंपियनशिप 2021 के अपने तीसरे और अंतिम मैच में उज्बेकिस्तान की एफसी बन्योदकोर टीम को 3-1 से हराया।

गोकुलम की ओर से एलशादाई अचेमपोंग, मनीषा और करेन स्टेफनी ने गोल किए, जबकि बन्योदकोर की ओर से उमिदा जोइरोवा ने सिर्फ एक गोल किया।

इस प्रतियोगिता में अपने पहले दो मैचों में जॉर्डन के अम्मान एससी और ईरानी क्लब शहरदारी सिरजन से लगातार हारने के बाद कोच प्रिया पीवी की टीम अंतिम मैच में सकारात्मक परिणाम हासिल करने को बेताब नज़र आई और उन्होंने आक्रामक शुरुआत की।

दोनों टीमों ने शुरुआती खेल में ही गोल करने के कई मौके बनाए। बन्योदकोर पहले आधे घंटे में तीन मौकों पर बढ़त लेने के करीब पहुंच गई, लेकिन निलंबित अदिति चौहान की जगह खेल रहीं गोकुलम की गोलकीपर श्रेया हुड्डा ने उज़्बेक की टीम के द्वारा कॉर्नर से किए गए दो प्रयासों को विफल कर दिया।

तीसरी बार गेंद गोकुलम के गोलपोस्ट में नज़र आई, लेकिन बन्योदकोर के इस गोल को ऑफसाइड के कारण खारिज कर दिया गया।

हालांकि 35वें मिनट में गोकुलम ने गोल किया। दांगमेई ग्रेस और मनीषा के बीच बाईं ओर अच्छा तालमेल देखने को मिला। एक मौके के साथ गोकुलम की घाना की फॉरवर्ड एलशादाई अचेमपोंग आगे बढ़ीं। इसके बाद इस स्ट्राइकर ने गोकुलम को बढ़त दिलाने के लिए एक शानदार हेडर के साथ गोल कर दिया।

अम्मान एससी के खिलाफ पहले मैच में हारने वाले मैच में किए गए गोल के बाद एएफसी महिला क्लब चैंपियनशिप में यह एल्शदाई का दूसरा गोल रहा।

बाकी के हाफ में दोनों टीमों ने कई मौके बनाए लेकिन पहला हाफ भारतीय दल के पक्ष में 1-0 से समाप्त हुआ।

दूसरे हाफ में दस मिनट बाद ही गोकुलम ने अपनी बढ़त को बढ़ा दिया। एल्शदाई को पेनल्टी बॉक्स के अंदर नीचे लाए जाने के बाद गोकुलम को पेनल्टी दी गई।

मनीषा, जिन्होंने शुरुआती गोल में एक बड़ी भूमिका निभाई थी, उन्होंने स्पॉट किक लिया और गोकुलम को 2-0 की बढ़त दिला दी।

इस गोल के साथ मनीषा एएफसी वूमेंस क्लब चैंपियनशिप में गोल करने वाली पहली भारतीय खिलाड़ी बन गईं।

पेनल्टी के दौरान लाल कार्ड दिखाए जाने से एक खिलाड़ी कम होने के बावजूद एफसी बन्योदकोर ने 63वें मिनट में उमिदा जोइरोवा के जरिए इस बढ़त को कम कर दिया।

हालांकि, पांच मिनट बाद करेन स्टेफनी ने गोकुलम को अपने दो-गोल की बढ़त वापस दिला दी। मनीषा के गोल के बाद कोलंबियाई खिलाड़ी ने आखिरी गोल शानदार अंदाज़ में दागा। इसकी बदौलत गोकुलम ने 3-1 से जीत के साथ मैच का अंत किया।

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स