एएफसी कप 2021: प्ले-ऑफ में जयेश राणे के गोल की बदौलत बेंगलुरु एफसी ने क्लब ईगल्स को 1-0 से हराया

मिडफील्डर ने 25 वें मिनट में मैच का एकमात्र गोल करके बेंगलुरु एफसी को एएफसी कप 2021 के ग्रुप स्टेज में जगह बनाने में मदद की।

लेखक शिखा राजपूत
फोटो क्रेडिट Bengaluru FC

रविवार को खेले गए एएफसी कप 2021 के प्ले-ऑफ में बेंगलुरु एफसी ने स्टार फुटबॉलर जयेश राणे (Jayesh Rane) की मदद से मालदीव की क्लब ईगल्स को 1-0 से हरा दिया और महाद्वीपीय प्रतियोगिता के ग्रुप स्टेज में प्रवेश किया।

25वें मिनट पर मिडीफील्डर की स्ट्राइक ने दोनों टीमों के बीच एक अंतर स्थापित कर दिया। दोनों टीमों के बीच मालदीव के माले राष्ट्रीय स्टेडियम में एक करीबी मुकाबला देखने को मिला।

जयेश राणे ने बेंगलुरु एफसी के लिए डेब्यू किया था। इस ट्रांसफर विंडो में इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के प्रतिद्वंदी एटीके मोहन बागान से अब बेंगलुरु एफसी का सामना होगा।

बेंगलुरू एफसी अब एएफसी कप 2021 के ग्रुप डी में प्रतिस्पर्धा करेगा। इस ग्रुप में भारतीय क्लब एटीके मोहन बागान, मालदीव की माजिया एस एंड आरसी और बांग्लादेश की बशुंधरा किंग्स टीमें शामिल हैं।

ग्रुप स्टेज के मैच माले में 18, 20 और 24 अगस्त को होंगे। इस ग्रुप का विजेता इंटर-जोन प्ले-ऑफ सेमीफाइनल में जाएगा।

शुरुआती मिनटों में दोनों टीमों ने एक-दूसरे को काफी मौके दिए, मैच में गोल करने के कई मौके दोनों टीमों को मिले। वहीं बेंगलुरू एफसी अपना खाता खोलने के करीब पहुंच गई।

क्लेटन सिल्वा (Cleiton Silva) की डिलीवरी ने योरोंडु मुसावु-किंग (Yrondu Musavu-King) को खेल में पीछे छोड़ने का रास्ता साफ कर दिया, लेकिन गोल करने के लिए गैबॉन के इंटरनेशनल खिलाड़ी का पूरा प्रयास क्लब ईगल्स के मोहम्मद फैसल (Mohamed Faisal) पर था।

गोल के लिए टीम में अकेले स्ट्राइकर के रूप में खेल रहे सिल्वा भी दो बार पास आए, लेकिन उनके दोनों प्रयासों को क्लब ईगल्स की बैकलाइन ने पूरा नहीं होने दिया।

बाद में क्लब ईगल्स के इस्माइल इसा (Ismail Easa) ने अली फसीर (Ali Fasir) के पास पर अच्छा प्रदर्शन किया और बीएफसी के गोलकीपर गुरप्रीत सिंह संधू (Gurpreet Singh Sandhu) को पीछे छोड़ दिया। हालांकि, मालदीव के अंतर्राष्ट्रीय खिलाड़ी ने ऑफ-साइड में बेहतर खेल दिखाया।

हालांकि, स्ट्राइक के दौरान जयेश राणे को पिच की दूसरी तरफ कोई समस्या नहीं थी, और इसी का फायदा उठाकर उन्होंने नए क्लब के डेब्यू में अपना पहला गोल दाग दिया।

क्लब ईगल्स के डिफेंस में सार्थक गोलुई लॉन्ग थ्रो को ठीक से क्लियर करने में असफल रहे, विपक्षी खेमे के अंदर गेंद जयेश राणे के पास आकर गिरी, राणे को इसी मौके का इंतजार था, उन्होंने लेसेस का इस्तेमाल करते हुए बॉटम कॉर्नर पर गोल कर दिया। इस गोल की वजह से बेंगलुरु एफसी का आत्मविश्वास बढ़ गया और उन्होंने मैच पर काबू कर लिया।

हालांकि मालदीव की टीम को दूसरे हाफ में बराबरी करने का मौका मिला, लेकिन अली फसीर ने बीएफसी के दो डिफेंडरो को चकमा देने की कोशिश की और अपना शॉट वाइड की तरफ खींच लिया।

सेंटर-बैक जोड़ी के रूप में अपना पहला मैच खेलते हुए एलन कोस्टा और यरोंडु मुसावु-किंग ने बीएफसी को गोल ना करने देने के लिए हर मुमकिन कोशिश की। जबकि राणे, सुरेश सिंह वांगजाम और रोहित कुमार मिडफील्ड पर हावी रहे।