राष्ट्रमंडल खेल 2010: भारत के सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन में निशानेबाजों ने निभाई अहम भूमिका

भारत ने दिल्ली में आयोजित 2010 राष्ट्रमंडल खेलों में 38 स्वर्ण सहित 101 पदक हासिल किया था। इस संस्करण में निशानेबाजों ने 30 पदक अपने नाम किए थे।

लेखक रौशन प्रकाश वर्मा
फोटो क्रेडिट Getty Images

नई दिल्ली में 2010 का राष्ट्रमंडल खेल भारतीय खेल इतिहास में हमेशा खास रहेगा।

यह पहली बार था जब भारत ने राष्ट्रमंडल खेल की मेजबानी की और देश के एथलीटों ने यह सुनिश्चित किया कि वे इस अवसर को यादगार पल के रूप में संजोने के लिए अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करें।

नई दिल्ली 2010 राष्ट्रमंडल खेल में भारत ने अब तक का अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन किया था। भारत ने 38 स्वर्ण पदक सहित कुल 101 पदक जीतते हुए राष्ट्रमंडल खेल 2010 पदक तालिका में दूसरा स्थान हासिल किया था।

यह एकमात्र ऐसा मौका था जब भारत ने राष्ट्रमंडल खेल के किसी भी संस्करण में 100 से अधिक पदक पर कब्जा किया। भारत का दूसरा सबसे बेहतरीन प्रदर्शन मैनचेस्टर 2002 में आया था जहां भारत ने 30 स्वर्ण पदक सहित 69 पदक हासिल किए थे।

2010 के राष्ट्रमंडल खेल में, भारतीय पुरुषों ने 64 जबकि महिलाओं ने 36 पदक जीते थे। बैडमिंटन में भारत को एकमात्र पदक मिश्रित टीम स्पर्धा में मिला था। बैडमिंटन में भारत को रजत पदक से संतोष करना पड़ा था। 

2010 राष्ट्रमंडल खेल की पदक तालिका में ऑस्ट्रेलिया 74 स्वर्ण पदक सहित 177 पदकों के साथ शीर्ष पर रहा था।

बीजिंग 2008 ओलंपिक चैंपियन अभिनव बिंद्रा की अगुवाई में निशानेबाजी दल ने भारत के पदक जीतने की रेस का नेतृत्व किया। भारतीय निशानेबाजों ने भारत के 101 पदकों में से 30 पदक हासिल किए। इसके अलावा 38 शीर्ष पोडियम फिनिश में से 14 शीर्ष पोडियम स्थान पर भारतीय निशानेबाजों का कब्जा था। 

पहलवानों ने भी 2010 राष्ट्रमंडल खेल में शानदार प्रदर्शन किया। इस प्रतियोगिता में हिस्सा लेने गए 21 भारतीय पहलवानों में से 19 पहलवानों ने पोडियम पर जगह पाने में कामयाबी हासिल की। 

इसके अलावा, 2010 के राष्ट्रमंडल खेल में कई भारतीय एथलीटों ने पहली बार खेलते हुए पोडियम पर जगह बनाई। गीता फोगाट ने महिलाओं के 55 किग्रा भार वर्ग में शानदार प्रदर्शन करते हुए राष्ट्रमंडल खेल में स्वर्ण पदक जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनकर इतिहास रच दिया।

इस बीच, आशीष कुमार ने रजत पदक और कांस्य पदक जीता। यह राष्ट्रमंडल खेल में जिम्नास्टिक में भारत का पहला पदक था।

नई दिल्ली 2010 राष्ट्रमंडल खेल के दौरान कृष्णा पूनिया ने एथलेटिक्स इवेंट में पोडियम पर शीर्ष स्थान हासिल करने के भारत के 52 साल के लंबे इंतजार को खत्म किया। पूनिया ने महिला डिस्कस थ्रो में स्वर्ण पदक हासिल करते हए एक नया कीर्तिमान स्थापित किया। 

कार्डिफ 1958 में पुरुषों की 440 यार्ड की रेस में मिल्खा सिंह की जीत राष्ट्रमंडल खेलों में भारत का एकमात्र एथलेटिक्स स्वर्ण पदक था।

दिल्ली में 2010 के राष्ट्रमंडल खेल में 36 विभिन्न देशों और क्षेत्रों के कुल 4,352 एथलीटों ने हिस्सा लिया था। भारतीय की ओर से 495 सदस्यीय मजबूत टीम ने देश का प्रतिनिधत्व किया था।

राष्ट्रमंडल खेल 2010 की पदक तालिका


रैंक देश स्वर्ण रजत कांस्य कुल
1 ऑस्ट्रेलिया 74 55 48 177
2 भारत 38 27 36 101
3 इंग्लैंड 37 60 45 142
4 कनाडा 26 17 32 75
5 केन्या 12 11 10 33
5 दक्षिण अफ्रीका 12 11 10 33
7 मलेशिया 12 10 13 35
8 सिंगापुर 11 11 9 31
9 नाइजीरिया 11 10 14 35
10 स्कॉटलैंड 9 10 7 26
- अन्य 30 53 57 140
272 275 281 828

राष्ट्रमंडल खेल 2010: खेल के अनुसार भारत द्वारा जीते गए पदक

खेल स्वर्ण पदक रजत पदक कांस्य पदक कुल
शूटिंग 14 11 5 30
कुश्ती 10 5 4 19
एथेलिटक्स 2 3 7 12
तीरदांजी 3 1 4 8
वेटलिफ्टिंग 2 2 4 8
बॉक्सिंग 3 0 4 7
टेबल टेनिस 1 1 3 5
बैडमिंटन 2 1 1 4
टेनिस 1 1 2 4
जिम्नास्टिक 0 1 1 2
हॉकी 0 1 0 1
तैराकी 0 0 1 1

ओलंपिक जाएं। यह सब पायें।

मुफ्त लाइव खेल आयोजन | सीरीज़ के लिए असीमित एक्सेस | ओलंपिक के बेमिसाल समाचार और हाइलाइट्स