बॉबस्ले

बॉबस्ले

बॉबस्ले नवीनतम

बीजिंग में ओलंपिक बॉबस्ले 2022:  वो 5 बातें जो आपको जाननी चाहिए

हर शीतकालीन ओलंपिक (सेव वन - स्क्वॉव वैली 1960) में शामिल किया गया था, बॉबस्ले खेलों का एक प्रतिष्ठित हिस्सा है। यह स्केलेटन और लुग के साथ बीजिंग 2022 के कार्यक्रम में तीन स्लाइडिंग खेलों में से एक है।

खेलों में बॉबस्ले प्रतियोगिता में एथलीट्स 12 पदक जीत सकते हैं।, जिसमें पुरुषों और महिलाओं के लिए दो स्पर्धाएं शामिल हैं, जिसमें बिल्कुल नया मोनोबॉब इवेंट भी शामिल किया गया है।

नीचे हम शीतकालीन ओलंपिक में बॉबस्ले के बारे वो 5 बातें बताने जा रहे हैं, जिन्हें आपको जानना चाहिए। इसमें जिन एथलीट्स पर नजरें होगी, खेल का इतिहास और बहुत कुछ शामिल है!

बीजिंग 2022 में टॉप ओलंपिक बॉबस्लेर्स

पिछले तीन शीतकालीन खेलों में चार-मैन बॉबस्ले में तीन अलग-अलग विजेताओं को देखा गया है, लेकिन विश्व चैंपियनशिप में फ्रांसेस्को फ्रेडरिक, कैंडी बाउर, अलेक्जेंडर शूएलर और थोरस्टेन मार्गिस के हालिया प्रदर्शन से पता चलता है कि जर्मन दस्ता बीजिंग में भारी पड़ने के लिए बिल्कुल तैयार है।

चार सदस्यीय दल डिफेंडिंग ओलंपिक चैंपियन हैं (हालांकि मार्टिन ग्रोथकोप शूएलर के स्थान पर प्योंगचांग में उस टीम का हिस्सा थे)। उन्होंने आसानी से 2021 विश्व चैंपियनशिप में 3: 35.02 -0.79 सेकंड के तेज समय के साथ स्वर्ण पदक जीता उपविजेता लातविया को मात दी।

2018 के शीतकालीन ओलंपिक में जर्मनी ने हर बॉबस्ले स्पर्धा में स्वर्ण पदक जीता, इसलिए यदि बीजिंग में ऐसा नहीं हुआ तो ये बहुत आश्चर्य की बात होगी।

केवल दो-महिला बॉबस्ले ने 2002 के साल्ट लेक सिटी खेलों में ओलंपिक इवेंट में हिस्सा लिया था, लेकिन इस आयोजन से ही खेल के पावरहाउस की चर्चा होनी शुरू हो गई थी। उनमें से प्रमुख कैली हम्फ्रीज़ (यूएसए) हैं, जिन्होंने वैंकूवर (2010) और सोची (2014) में टीम के साथी हीथर मोयसे (कनाडा) के साथ स्वर्ण पदक जीता। प्योंगचांग में हम्फ्रीज ने ब्रोकमैन फियालिकिया जॉर्ज के साथ कांस्य जीता। वह अब संयुक्त राज्य का प्रतिनिधित्व करती है और उन्होंने 2021 की विश्व चैंपियनशिप में ब्रोकमैन लोलो जोन्स के साथ जीत हासिल की।

इस आयोजन में गत ओलंपिक चैंपियन जर्मन जोड़ी मारीयामा जामेंका और लिसा बकविट्ज़ हैं, हालांकि 2021 विश्व चैंपियनशिप में जामेंका ने छठे स्थान पर रहते हुए नए ब्रेकमैन वेनेसा मार्क के साथ स्थान बनाया।

एलाना मेयर्स टेलर और सिल्विया हॉफमैन की अमेरिकी जोड़ी पर भी सभी की नजरें टिकी होगी। मेयर्स टेलर तीन बार के ओलंपिक पदक विजेता हैं, और उन्होंने प्योंगचांग में ब्रैकमैन लॉरेन गिब्स के साथ रजत जीता था।

कैली हम्फ्रीज़: मैं जानती हूं कि सर्वश्रेष्ठ बनने के लिए क्या ज़रूरी होता है

प्योंगचांग 2018 में दो सदस्यीय बोबस्लेड स्पर्धा में जर्मन और कनाडाई टीमों ने गोल्ड मेडल मुकाबले के लिए सबसे उत्साहित मैच खेला। बिना किसी शक के यह दोनों टीमें टूर्नामेंट की सर्वश्रेष्ठ टीम थी। फ्रांसेस्को फ्रेडरिक (जर्मनी) जिन्होंने प्योंगचांग में फॉर मैन में स्वर्ण जीता और जर्मन स्लेट के विजयरथ को कायम रखा।

फ्रीडरिक इस इवेंट में बड़ा नाम है, इस खिलाड़ी ने लगातार सात विश्व चैंपियनशिप जीती है।

वुमेंस मोनोबॉब बीजिंग में ओलंपिक का आगाज़ करने जा रहा है। (यह कार्यक्रम 2020 के शीतकालीन युवा खेल लॉज़ेन में हुआ था)। 2021 विश्व चैंपियन कैली हम्फ्रीज इस इवेंट में फेवरेट अमेरिकी निकोल्स वोग्ट और एलाना मेयर्स टेलर के साथ उतंरेगी। विश्व रजत पदक विजेता स्टेफनी श्नाइडर (जर्मनी) भी बीजिंग में स्वर्ण पदक की प्रबल दावेदार है।

बीजिंग 2022 में ओलंपिक बॉबस्ले का शेड्यूल

बॉबस्ले प्रतियोगिता 13 फरवरी से 20 फरवरी 2022 तक होगी।

बीजिंग 2022 में ओलंपिक बॉबस्ले का स्थान

सभी स्लाइडिंग इवेंट्स चीन की राजधानी से 74 किमी उत्तर-पश्चिम में स्थित यानक़िंग में ज़ियाओहिटुओ पर्वत क्षेत्र में स्थित यानकिंग नेशनल स्लाइडिंग सेंटर में होंगी। स्लाइडिंग इवेंट के लिए जिस ट्रैक का उपयोग किया जाएगा, वह दुनिया में अपनी तरह का पहला 360 डिग्री मोड़ है।

ट्रैक की प्रतियोगिता की लंबाई 1615 मीटर है, जिसमें अधिकतम ढाल 18% और 16 कर्व है।

इस स्थल की सीटिंग क्षमता 2,000 है और दर्शकों के लिए 8,000 की स्थायी क्षमता है।

बीजिंग 2022 में ओलंपिक बॉबस्ले प्रतियोगिता का प्रारूप

शीतकालीन ओलंपिक में बॉबस्ले प्रतियोगिता में चार स्पर्धाएँ शामिल हैं:

  • टू-मैन
  • टू-वुमेन
  • फॉर-मैन
  • मोनोबॉब

खेलों में बोबस्ले का मुकाबला करने के लिए एथलीटों के लिए अधिकतम 170 स्थान का कोटा है। अधिकतम 124 पुरुष और 46 महिलाएं क्वालिफाई कर सकती हैं।

Sliding Madness | कामिला और नाथन के साथ मोनोबॉब

ओलंपिक बॉबस्ले इतिहास

स्लेज का उपयोग सदियों से परिवहन के एक मोड के रूप में किया जाता रहा है, लेकिन बॉबस्ले का खेल 19 वीं शताब्दी के अंत तक शुरू नहीं हुआ, जब स्विस ने एक स्टीयरिंग तंत्र को टोबोगन से जोड़ा।

1897 में, सेंट मोरिट्ज़, स्विट्जरलैंड में दुनिया का पहला बॉबस्ले क्लब स्थापित किया गया था। जिस तरह से क्रू सीधे स्ट्रेटवे पर स्लेज की गति को बढ़ाने के लिए आगे और पीछे बॉब करेंगे, क्योंकि खेल ने अपना नाम कमाया।

1923 में फेडरेशन इंटरनेशनेल डी बॉबस्ले एट डी टोबोगनिंग की स्थापना की गई थी, और 1924 में खेल ने फ्रांस के शैमॉनिक्स में शीतकालीन खेलों में एक चार-मैन इवेंट के साथ ओलंपिक की शुरुआत की।

लेक सिटी में 2002 के शीतकालीन ओलंपिक में दो महिला कार्यक्रम के साथ लेक प्लासीड में 1932 के शीतकालीन ओलंपिक में दो-मैन इवेंट जोड़े गए थो।

बीजिंग में महिलाओं का मोनोबॉब एक नया इवेंट शामिल हुआ। कुल पदकों की संख्या के हिसाब से, स्विट्जरलैंड 31 पदक के साथ ओलंपिक बॉबस्ले इतिहास का सबसे सफल राष्ट्र है। हालांकि, जर्मनी ने प्रतियोगिता में सबसे 13 गोल्ड के साथ (25 कुल पदक) जीते है। वहीं, संयुक्त राज्य अमेरिका 25 पदक के साथ शीर्ष तीन से बाहर हो गया है।

सात पदकों के साथ ओलंपिक बॉबस्ले इतिहास में बोगदान मुसिओल सबसे सफल एथलीट है। केविन कुस्के (जर्मनी) और आंद्रे लैंगे (जर्मनी) ने सर्वाधिक चार स्वर्ण पदक जीते। तीन पदकों (दो स्वर्ण) के साथ ओलंपिक इतिहास में कैली हम्फ्री सबसे सफल महिला बॉबस्ले है। एलाना मेयर्स टेलर के भी तीन पदक हैं, लेकिन अब तक उन्होंने शीतकालीन खेलों में स्वर्ण पदक नहीं जीता है।

बॉबस्लेय | स्पोर्ट एक्सप्लेनर - लौसाने 2020